कृष्ण के मित्र सुदामा का वध आखिर क्यों किया था भगवान शिव ने, जानकर पेरो तले जमीन खिसक जाएगी

कृष्ण के मित्र सुदामा का वध आखिर क्यों किया था भगवान शिव ने, जानकर पेरो तले जमीन खिसक जाएगी

November 15, 2018 0 By admin

आप सभी जानते ही हैं की कृष्णा को उनके परम मित्र सुदामा कितने प्रिय थे और सुदामा जार समय श्री कृष्णा के साथ रहा करते थे और इसके अलावा इन दोनों की काफी कहानिया भी लोगो को मालुम हैं ,लेकिन दोस्तों क्या आप को मालूम हैं की आखिर क्यों भगवान शिव ने सुदामा ह्त्या की थी तो आइये जानते हैं इस बारे में ।

Advertisements

इससे पहले आप को एक बात बता दे की सुदामा मरने के बाद स्वर्ग में में रहने लगे थे और उनके साथ बिराजा भी थे ।आप की जानकारी के लिए बता दे की बिराजा श्री कृष्णा की आराधना किया करते थे और उन्ही की भगति में विलीन रहती हैं बता दे की जिस वजह से राधा जी ने उन्हें और सुदामा को पृथ्वी लोक पर रहने का श्राप दे दिया था ।

इस वजह से उन्हें धरती पर आना पड़ा था और धरती पर उन्हें राक्षस के रूप जन्म हुआ था ।और उनका नाम था शंख चूर्ण और बिराजा ने जन्म लिया था तुलसी माता के रूप में और बाद में इन दोनों की शादी होगी थी आप को बता दे की शंख चूर्ण के पास ब्रह्मा का एक वरदान था और इस वरदान की वजह से उन्हें कोई भी जल्दी से हरा नहीं सकता था इसी वजह से वह तीन लोको के स्वामी बन चुके थे ।

Also Read: नागिन 3 में बेला और विष नागिन बन इतनी मोटी फीस चार्ज करते हैं ये मशहूर स्टार्स

Click On The "Next Page" To Continue Reading>>>

संख चूर्ण का अत्याचार काफी बढ़ गया था और यह सब देख भगवान शिव ने ये सब देख उन्हें काफी समझाने की कोसिस की थी लेकिन उसे अपने वरदान का घमंड बहुत ज्यादा हो गया था जिसके बाद भगवान शिव ने उसके अत्याचार को खत्म करने के लिए सुदामा को वध किया था ताकि संख चूर्ण के अत्याचार से हमेशा हमेशा के लिए आजाद हो सके

Source